Monday, April 27, 2020

हींग /Asafoetida

हींग कई बीमारियों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। हम आपको हींग के औषधीय गुणों की जानकारी देते हैं। हींग के लाभ 
1 : दांतों की समस्या के लिए हींग बहुत फायदेमंद है। दांतों में कीड़ा लग जाने पर रात में सोते वक्त दांतों में हींग दबाकर सोएं। ऐसा करने से कीड़े अपने-आप निकल जाएंगे। 
2 : दाद, खाज, खुजली जैसे चर्म रोगों में हींग बहुत फायदेमंद है। चर्म रोग होने पर हींग को पानी में घिसकर उन स्थानों पर लगाने से फायदा होता है।
3 : बवासीर की समस्या होने पर हींग का प्रयोग करना फायदेमंद होता है। बवासीर होने पर हींग का लेप लगाने से आराम मिलता है। 
4 : कब्ज की शिकायत होने पर हींग के चूर्ण में थोडा-सा मीठा सोडा मिलाकर रात में सोने से पहले लीजिए। इससे पेट साफ हो जाएगा और कब्ज की शिकायत समाप्त होगी। 
5 : पेट में दर्द व ऐंठन होने पर अजवाइन और नमक के साथ हींग का सेवन करने से फायदा होता है। 
6 : पेट में कीड़े हो जाने पर हींग को पानी में घोलकर एनीमा लेने से पेट के कीड़े शीघ्र निकल आते हैं। 
7 : अगर किसी खुले जख्म पर कीड़े पड़ गए हों, तो उस जगह पर हींग का चूर्ण लगाने से कीड़े समाप्त हो जाते हैं। 
8 : खाने से पहले घी में भुनी हुई हींग एवं अदरक का एक टुकड़ा मक्खन के साथ में लेने से भूख ज्यादा लगती है। 
9 : पीलिया होने पर हींग को गूलर के सूखे फलों के साथ खाना चाहिए। पीलिया होने पर हींग को पानी में घिसकर आंखों पर लगाने से फायदा होता है। 
10 : कान में दर्द होने पर तिल के तेल में हींग को पकाकर उस तेल की बूंदों को कान में डालने से दर्द समाप्त हो जाता है। 
11 : उल्टी आने पर हींग को पानी में पीसकर पेट पर लगाने से फायदा होता है। 
12 : सिरदर्द होने पर हींग को गर्म करके उसका लेप लगाने से फायदा होता है। ईरानी मूल की मानी जाने वाली हींग खांसी, सूखी खांसी, इन्फ्लुएंजा, ब्रोंकाइटिस और अस्थमा जैसी बीमारियों को दूर करने में भी काफी मददगार है। दाल, सांभर व अन्य किसी रसदार सब्जी में हींग का इस्तेमाल किया जाता है। घी के साथ सेवन करें : देसी घी में हींग के पाउडर को भून लें। इससे खांसी और सांस से जुड़ी समस्याओं से राहत मिलती है। हींग और शहद : थोड़ी-सी हींग में एक चम्मच शहद और आधा चम्मच सफेद प्याज का रस मिला लें। साथ ही, इसमें आधा चम्मच सुपारी का रस और सूखी अदरक मिला लें। सांस से जुड़ी समस्याओं से बचने के लिए रोज इस मिश्रण का थोड़ी मात्रा में सेवन करें। गर्म पानी के साथ हींग : गर्म पानी में एक चुटकी हींग डाल लें। इस मिश्रण को पीने से गंभीर ब्रोंकाइटिस में राहत मिलती है। यह उपाय करने में आसान है। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि हींग की तासीर गर्म होती है, इसलिए इसका ज़्यादा सेवन न करें।
धन्यवाद। 

English translation 

Asafoetida is very beneficial for many diseases. We give you information about the medicinal properties of asafoetida. Benefits of asafoetida
 1: Asafoetida is very beneficial for teeth problems. Sleep with asafetida in the teeth while sleeping at night in the teeth. Doing this will automatically remove insects.
 2: Asafoetida is very beneficial in skin diseases like ringworm, scabies, itching. Grinding asafetida in water and applying on those places is beneficial in the condition of skin diseases.
 3: Using asafetida is beneficial in the problem of piles. Applying asafetida paste on piles provides relief.
 4: On the complaint of constipation, mix a little sweet soda in asafoetida powder and take it before going to bed at night. This will clear the stomach and eliminate the complaint of constipation.
 5: Taking asafetida with celery and salt is beneficial in stomach pain and cramps.
 6: If there is a worm in the stomach, dissolve asafetida in water and take enema, the stomach worms come out quickly.
 7: If insects have fallen on an open wound, then applying asafetida powder to that place kills the worms.
 8: Take a piece of asafetida and ginger roasted in ghee before eating, along with butter, it increases appetite.
 9: Asafetida, asafetida should be eaten with dried fruit of sycamore. Grind asafetida in water and apply on the eyes in the case of jaundice.
 10: If there is pain in the ears, by cooking asafetida in sesame oil, putting drops of that oil in the ear ends pain.
 11: Grind asafetida with water and apply it on the stomach, it provides relief in vomiting.
 12: Heat asafetida and apply its paste on headache. Known to be of Iranian origin, asafoetida is also very helpful in curing diseases like cough, dry cough, influenza, bronchitis and asthma. Asafoetida is used in lentils, sambar and any other juicy vegetable. Drink with Ghee: Fry asafetida powder in desi ghee. It provides relief from cough and respiratory problems. Asafoetida and honey: Mix a spoon of honey and half a teaspoon of white onion juice in a little asafetida. Also, mix half a teaspoon betel nut juice and dry ginger in it. To avoid respiratory problems, consume small amounts of this mixture daily. Asafoetida with hot water: Put a pinch of asafoetida in hot water. Drinking this mixture provides relief in severe bronchitis. It is easy to remedy. But keep in mind that asafetida is hot, so do not consume it too much.
 Thank you.
Disqus Comments